Home BIOLOGY सफेद रक्त कोशिकाओं (WBC) की संख्या कैसे बढ़ाएं । how to increase...

सफेद रक्त कोशिकाओं (WBC) की संख्या कैसे बढ़ाएं । how to increase wbc count

how-to-increase-wbc-count
how-to-increase-wbc-count

How to increase Wbc Count

सफेद रक्त कोशिकाओं (WBC) :-

सफेद रक्त कोशिका (White blood cell) बेहद जरूरी होती हैं क्योंकि ये कोशिका, हमारे शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करती हैं। ये कोशिका लगातार नष्ट होते रहते है और बनते रहते हैं।

किसी स्वस्थ इंसान के प्रति माइक्रो लीटर  रक्त में ये 5000 से 11,000 तक होती हैं। इसका मुख्य कार्य शरीर को रोगों के संक्रमण से बचाना तथा Immune system को बढाना  है। WBC का सबसे अधिक भाग 60 से 70% न्युट्रोफिल्स कणकाओ का बना होता है न्युट्रोफिल्स कणकाऐ रोगाणुओ तथा जीवाणुओं का भक्षण करती है । 

सफेद रक्त कोशिकाओं (WBC)की संख्या कम होने पर शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है, हालांकि बेहतर आहार और दवाओं की मदद से सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या को बढ़ाया जा सकता है।

 

सफेद रक्त कोशिका (White blood cell) बेहद जरूरी होती हैं क्योंकि ये कोशिका, हमारे शरीर को रोगों से लड़ने की क्षमता प्रदान करती हैं। ये कोशिका लगातार नष्ट होते रहते है और बनते रहते हैं। किसी स्वस्थ इंसान के प्रति माइक्रो लीटर  रक्त में ये 5000 से 11,000 तक होती हैं। 

इसका मुख्य कार्य शरीर को रोगों के संक्रमण से बचाना तथा Immune system को बढाना  है। WBC का सबसे अधिक भाग 60 से 70% न्युट्रोफिल्स कणकाओ का बना होता है न्युट्रोफिल्स कणकाऐ रोगाणुओ तथा जीवाणुओं का भक्षण करती है । 

सफेद रक्त कोशिकाओं (WBC) की संख्या कम होने पर शरीर की रोगों से लड़ने की क्षमता कम हो जाती है, हालांकि बेहतर आहार और दवाओं की मदद से सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या को बढ़ाया जा सकता है।

 

आइये समझाते है सफेद रक्त कोशिकाओं (WBC) की संख्या कैसे बढ़ाएं । How to increase wbc count  –

सफेद रक्त कोशिकाएं की कमी

1. हरी पत्तेदार सब्जियां :-
विटामिन व खनिज अधिक मात्रा की वजह से आहार में सब्जियां बहुत महत्वपूर्ण होती हैं। इनसे लौह तत्व, विटामिन-ए, विटामिन-बी कॉम्प्लेक्स, विटामिन-सी, कैल्शियम और फाइबर अच्छी मात्रा में मिलता है। 

2. ग्रीन टी :-
ग्रीन टी में सबसे अधिक एंटी-ऑक्सिडेंट होते हैं साथ ही इसमें कैलोरी भी नहीं होतीं।

3. लहसुन:-
लहसुन में काफी मात्रा में एंटी ऑक्सीडेंट होता है जो हमारे इम्यून सिस्टम को बीमारियों से लड़ने की ताकत देता है। इसमें एलिसिन नामक तत्व भी होता है, जो शरीर को इन्फेक्शन और बैक्टीरिया से लड़ने में मदद करता है।

4. नशे से रहें दूर :-

किसी भी प्रकार के नशे जैसे, शराब पीना, धूम्रपान करना या गुटका आदि चबाने जैसी आदतों से खुद को दूर रखें। इनमें मौजूद हानिकारक रसायनों से सफेद रक्त कोशिकाओं नष्ट हो सकती हैं। 

Also Watch

Cell Structure (कोशिका  संरचना) and Function

रक्त परिसंचरण तंत्र (Blood Circulatory System) खून क्या होता है RBC, WBC, Plasma

RBC (Red Blood Cell) क्या है इसको भी जानिए  

5. दही:-
दही में दूध के मुकाबले कैल्शियम की मात्रा ज्यादा होती है। दही के बैक्टीरिया तथा पोषक तत्व शरीर के लिए एंटीबायोटिक का कार्य करते हैं रोगों से लड़ने की क्षमता भी प्रदान करते हैं। दही के रोजाना सेवन से शरीर की बीमारियों से लड़ने की क्षमता और सफेद रक्त कोशिकाएं की संख्या बढ़ती है।

6. विटामिन ‘ए’ व ‘ई’ :-
विटामिन ए भी एक एंटीऑक्सीडेंट है। शरीर में इसकी पर्याप्त मात्रा के लिए आप गाजर, टमाटर, मिर्च, और स्क्वैश आदि का नियमित व संतुलित सेवन कर सकते हैं 

7.कॉपर व जिंक सप्लीमेंट्स का सेवन करे
 इन सब में शक्तिशाली एंटीओक्सीडेनट्स होते हैं जो सफेद रक्त कोशिकाओं की संख्या बढ़ाते हैं

जब  WBC काउंट या सफेद रक्त कोशिका की गिनती बेहद कम हो जाती है, तो उस व्यक्ति को ल्युकोपिनीया (leucopenia) नामक समस्या हो जाती हैं। इसमें शरीर में बीमारीयों से बचाव की शक्ति कम हो जाती है और एड्स, कैंसर और हेपेटाइटिस आदि रोग होने की संभावना भी बढ़ जाती है। 

Full Concept के लिए पूरा विडियो देखे ……

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here